तालिबान का ईरान और तुर्कमेनिस्तान की सीमाओं से लगी चौकियों पर क़ब्ज़ा!
Post By : CN Rashtriya Webdesk   |  Posted On: 3 weeks ago  |  62

तालिबान का ईरान और तुर्कमेनिस्तान की सीमाओं से लगी चौकियों पर क़ब्ज़ा!

काबुल : अफगानिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार हमदुल्ला मोहिब ने कहा कि अफगानिस्तान रूस, चीन और भारत की सेनाओं सहित बाकी देशों से किसी भी टेक्टिकल या आतंकवाद विरोधी अभियान के समर्थन का स्वागत करता है। तालिबान ने दावा किया है कि उसके लड़ाकों ने देश के 85 फीसदी हिस्से पर अपना नियंत्रण स्थापित कर लिया है। जिसके बाद घबराई अफगान सरकार ने भारत, रूस और चीन से मदद की गुहार लगाई है। 

आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप नहीं करें

अफगान एनएसए ने पाकिस्तान का नाम लिए बिना यह भी कहा कि किसी भी बाहरी देश को अफगान सरकार के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप नहीं करना चाहिए। उन्होंने कहा कि हमें एक महाशक्ति को दूसरे के साथ बदलने की आवश्यकता नहीं है। शांति और स्थिरता तभी आ सकती है जब क्षेत्रीय और बाहरी सहयोग बराबर मिलता रहे। हम बाहरी भागीदारों से अपने रक्षा और सुरक्षा बलों को आतंकवाद से लड़ने में मदद करने का आह्वान करते हैं।

तकनीकी सहायता का स्वागत

उन्होंने कहा कि हम निश्चित रूप से चीन, भारत और रूस से सभी बाहरी भागीदारों से तकनीकी सहायता का स्वागत करते हैं। मोहिब ने जोर देकर कहा कि अफगान अधिकारियों ने अफगानिस्तान के भीतर अन्य समूहों के साथ एकाधिकार नहीं, बल्कि एक वैध राजनीतिक ताकत के रूप में तालिबान के अस्तित्व के अधिकार को मान्यता दी है।

85 फीसदी क्षेत्र हमारे नियंत्रण में 

मॉस्को में आयोजित शांति सम्मेलन में बोलते हुए तालिबान के एक शीर्ष नेता शहाबुद्दीन डेलावर ने घोषणा करते हुए कहा कि आप और पूरे विश्व समुदाय ने शायद हाल ही में देखा है कि अफगानिस्तान का 85 फीसदी क्षेत्र हमारे नियंत्रण में आ गया है। शुक्रवार को तालिबान ने अफगान-ईरान सीमा पर स्थित इस्लाम किला के सीमावर्ती शहर और अबू नासा फराही बॉर्डर चौकी पर अपना कब्जा कर लिया।

स्वतंत्र रूप से पुष्टि करना मुश्किल

अधिकारियों के मुताबिक़, तालिबान ने ईरान और तुर्कमेनिस्तान की सीमाओं से लगी प्रमुख सीमा चौकियों पर क़ब्ज़ा कर लिया है। तालिबान लड़ाकों का कहना है कि उन्होंने ईरान के पास इस्लाम क़ला और तुर्कमेनिस्तान की सीमा पर तोरघुंडी शहरों पर क़ब्ज़ा कर लिया है। वीडियो फ़ुटेज में तालिबान के लड़ाके कस्टम दफ़्तर से अफ़ग़ानिस्तान का झंडा उतारते दिख रहे हैं। अमेरिका अफ़ग़ानिस्तान से अपने सैनिकों को हटा रहा है। इस दौरान तालिबानी लड़ाके देश के बड़े हिस्से को तेज़ी से अपने नियंत्रण में ले रहे हैं। तालिबान का कहना है कि उसके लड़ाकों ने देश के 85 फ़ीसदी हिस्से पर नियंत्रण कर लिया है। इस दावे की स्वतंत्र रूप से पुष्टि करना मुश्किल है। सरकार ने इसका खंडन किया है।





वीडियो